Piracy Kya Hai Or Kitne Prakar Ki Hoti Hai [Piracy Meaning Hindi]

Piracy Kya Hai Or Kitne Prakar Ki Hoti Hai – क्या आप जानते हैं कि पायरेसी क्या है? पायरेसी शब्द के बारे में आपने इंटरनेट पर कभी न कभी तो अवश्य सुना होगा। अगर आप इंटरनेट से मूवी डाउनलोड करते हैं तो आप पायरेसी के बारे में अवश्य जानते होंगे। अगर फिर भी आप पायरेसी के बारे में नहीं जानते हैं। तो आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पायरेसी क्या है और पायरेसी कितने प्रकार की होती है के बारे में पूरी जानकारी हम आपको विस्तार से देंगे।

पायरेसी केवल इंडिया में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के लिए सिरदर्द बना हुआ है। आज के टाइम में पायरेसी सबसे अधिक फिल्म मेकर्स के लिए बहुत ही अधिक सिरदर्द बन चुका है। शायद आप ना जानते हो पायरेसी की वजह से ही फिल्म मेकर्स को यानी फिल्म बनाने वाले निर्माताओं को लगभग लगभग करोड़ों रुपए का नुकसान होता है। इसीलिए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से समझाते हैं कि Piracy Kya Hai / What Is Piracy In Hindi.  इसके अलावा हम आपको पायरेसी के रिलेटेड सभी जानकारी संक्षेप में देंगे।

Piracy क्या है? ~ What is Piracy in Hindi

Piracy Kya Hai Or Kitne Prakar Ki Hoti Hai [Piracy Meaning Hindi]पायरेसी को अगर हम आसान शब्दों में समझे तो पायरेसी के अंतर्गत किसी भी इललीगल फाइल को इंटरनेट की मदद से डाउनलोड करना और शेयर करना पायरेसी के अंतर्गत आता है।  आइए अब हम आपको  पायरेसी को और भी आसान शब्दों में आपको समझाते हैं। जिससे कि आप बहुत ही आसान भाषा में समझ जाएंगे कि आखिर पायरेसी क्या होती है।

पायरेसी एक पूरी तरह से इललीगल वर्क होता है। पायरेसी शब्द समुद्री डाकू से लिया गया है। पायरेसी शब्द का मतलब समुद्री डाकू होता है। जिस तरह से समुद्री डाकू समुद्र में यात्रा कर रहे यात्रियों के साथ लूटपाट करके उनका सारा सामान लूट लेते हैं। उसी तरह से बहुत सारे लोग इंटरनेट पर पायरेसी की मदद से इललीगल तरीके से बहुत सारे फिल्म मेकर्स की मूवी की पायरेसी मूवी बनाकर उनके करोड़ों का नुकसान कर देते हैं।

आप लोग तो जानते ही होंगे कि इंटरनेट पर ऐसी बहुत सारी वेबसाइट उपलब्ध है। जो अपनी वेबसाइट पर पायरेसी मूवी डाउनलोड करके हर महीने लाखों करोड़ों रुपए कमाते हैं। जिसमें से सबसे फेमस वेबसाइट Tamil Rockers, Bolly4u,  Skymoviehd , tamilyogi, Jio rockers  जैसी कुछ पॉपुलर वेबसाइट उपलब्ध हैं। जो अपनी वेबसाइट पर आने वाली नई मूवी  की मूवी डाउनलोड करके हर महीने अच्छा पैसा कमाते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता देंगे कि पायरेसी मूवी वेबसाइट को रोक पाना बहुत ही मुश्किल है। पायरेसी मूवी वेबसाइट को रोकने के लिए सरकार तरह तरह के कानून बनाती है। पर अभी तक कोई भी कानून इन पायरेसी वेबसाइट को रोकने में असमर्थ रहा है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हर साल हजारों पायरेसी मूवी वेबसाइट बंद होती हैं और हजारों पायरेसी मूवी साइट लांच भी होती हैं।

Film पायरेसी क्या है?

बहुत सारे लोगों के मन में शंका होती है कि लोग फिल्म पायरेसी की मदद से लाखों रुपए कैसे कमा लेते हैं। और उनके मन में यह भी शंका होती है कि आखिरकर फिल्म पायरेसी क्या होती है। फिल्म पायरेसी के अंतर्गत कुछ लोग इन लीगल तरीके से  किसी भी मूवी का ओरिजिनल कंटेंट चुराकर Unauthorized Duplication  मूवी तैयार करके  ऑनलाइन मार्केट में Sale कर देते हैं।

आज से कुछ समय पहले लोग पायरेसी मूवी को सीडी और डीवीडी के माध्यम से बनाकर लोगों के बीच बेचते थे। क्योंकि इस समय अधिकतर लोग सीरियल मूवी देखने के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। इसलिए अब लोग पायरेसी मूवी को इंटरनेट के माध्यम से वेबसाइट पर डाउनलोड करके हर महीने लाखों करोड़ों रुपए कमाते हैं।

यही कारण है कि जब कोई मूवी इंटरनेट पर अपलोड या लीक हो जाती है तो इससे निर्माताओं को एक मूवी से करो रुपए का नुकसान होता है । इंटरनेट पर पायरेसी मूवी डाउनलोड करना और इससे अपलोड करना दोनों ही इललीगल है। पर अभी भी भारत सरकार बहुत सारे कड़े कानून बनाने के बाद भारत सरकार पायरेसी मूवी पर कोई भी रोकथाम नहीं लगा पाई है।

Piracy कितने प्रकार की होती है

आप अब तो यह तो समझ ही गए होंगे पायरेसी होती क्या है। अगर आप यह जानना चाहते हैं कि पायरेसी कितने प्रकार की होती है। तो आपको बताना चाहता हूं कि पार पायरेसी पांच प्रकार की होती है। आइए हम आपको सभी पायरेसी के बारे में विस्तार से जानकारी देते हैं।

Counterfeiting Piracy

इस प्रकार की पायरेसी में किसी भी प्रोडक्ट के कॉपीराइट प्रोडक्ट मटेरियल को सेल करना Counterfeiting प्राइवेसी के अंतर्गत आता है। मान लीजिए कि कोई कंपनी अपने सॉफ्टवेयर को लाइसेंस एग्रीमेंट के साथ सेल करती है। और आप इस सॉफ्टवेयर  लाइसेंस एग्रीमेंट की कॉपी को और किसी के साथ शेयर करते हैं तो यह Counterfeiting प्राइवेसी के अंतर्गत आता है।

Internet Piracy

इस प्रकार की पायरेसी के अंतर्गत आप किसी सॉफ्टवेयर को इंटरनेट के माध्यम से कंपनी के गाइडलाइन को ना फॉलो करके इललीगल तरीके से डाउनलोड करते हैं। तो यह सारी प्रक्रिया आपके इंटरनेट पायरेसी के अंतर्गत आती है।

End User Piracy

इस प्रकार की पायरेसी के अंतर्गत अगर आप किसी कंपनी के सॉफ्टवेयर को अपने एक कंप्यूटर के लिए खरीद कर अगर आप उस सॉफ्टवेयर को मल्टीपल कंप्यूटर में यूज करते हैं। आपके द्वारा की गई यह सारी प्रक्रिया  End User Piracy के अंतर्गत आती है।

Client-Server Overuse Piracy

इस प्रकार की पायरेसी के अंतर्गत अगर आप किसी प्रोग्राम को आप सिर्फ अपने लोकल एरिया के लिए लाइसेंस परचेज करते हैं। और आप उस प्रोग्राम को उसी टाइम और बहुत सारे लोगों को यूज करने के लिए देते हैं तो यह सारी प्रक्रिया Client-Server Overuse पायरेसी के अंतर्गत आती है।

Hard-Disk Loading Piracy

इस प्रकार के पायरेसी के अंतर्गत अगर आप अपने कंप्यूटर के हार्ड डिस्क में इललीगल सॉफ्टवेयर की कॉपी  डाउनलोड करते हैं तो यह सारी प्रक्रिया हार्ड डिस्क लोडिंग पायरेसी के अंतर्गत आती है।

FAQs

क्या पायरेसी मूवी और सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करना अपराध है?

जी हां दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप इंटरनेट के माध्यम से या फिर और किसी माध्यम से इन लीगल तरीके से डाउनलोड की गई मूवी सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करते हैं तो यह केवल इंडिया में ही नहीं बल्कि दुनिया के और बहुत सारे देशों में इनलीगल है। और यह सारी चीज अपराध के अंतर्गत आती है । अगर आप पायरेसी मूवी और सॉफ्टवेयर डाउनलोड करते पाए जाते हैं तो आपको लगभग 3 साल की सजा भी हो सकती है । पाइरेसी अपराध के अंतर्गत जो पायरेसी वेबसाइट बनाते हैं। और जो पायरेसी वेबसाइट से मूवी यह सॉफ्टवेयर डाउनलोड करते हैं यह दोनों ही तरीके अपराध के अंतर्गत आते हैं । आप लोगों से हम केवल एक ही शब्द कहना चाहते हैं कि अगर आप भी ऑनलाइन इन लीगल तरीके से सॉफ्टवेयर या मूवी डाउनलोड करते हैं तो आप आज से ही इसे बंद कर दीजिए। जिससे कि आप आने वाली मुसीबत से बच सकें।

 निष्कर्ष

 दोस्तों हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Piracy क्या है और Piracy कितने प्रकार की होती है  के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से दी है। अगर आपको अभी तक पायरेसी के बारे में जानकारी प्राप्त नहीं थी। आशा करता हूं कि आपको इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद पायरेसी के रिलेटेड सभी जानकारी विस्तार से मिल गई होगी।

अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप हमें कमेंट करके अपनी राय अवश्य दें। और साथ में अगर आप ऐसे ही इंटरनेट की रिलेटेड जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारी इस वेबसाइट को बुकमार्क अवश्य करें धन्यवाद।

Leave a Comment